बीकानेर

घरवालों की डांट से बचने के लिए बना ली झूठी कहानी, छेड़छाड़ मामला

स्कूली बालिका से छेड़छाड़ व मारपीट की घटना मनगढ़त निकली। बालिका ने स्कूल का होमवर्क पूरा नहीं होने के कारण घरवालों की डांट से बचने के लिए खुद ही कहानी गढ़ी

बीकानेर। स्कूली बालिका से छेड़छाड़ व मारपीट की घटना मनगढ़त निकली। बालिका ने स्कूल का होमवर्क पूरा नहीं होने के कारण घरवालों की डांट से बचने के लिए खुद ही कहानी गढ़ी। पुलिस ने तीन दिन की जांच-पड़ताल के बाद सोमवार को घटना का पटाक्षेप कर दिया। वहीं छात्रा से मारपीट की घटना को लेकर माहौल गर्माने से पुलिस घटना के दिन से इसकी सत्ययता जानने में जुटी थी।

सीआई सुभाष बिजारणिया ने बताया कि मौका स्थल और प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ व सीसीटीवी फुटेज देखने पर स्थिति स्पष्ट हो गई। फुटेज में बालिका अपना आई कार्ड झाडिय़ों में फेंकती दिखाई दी। बालिका से किसी युवक ने बदसलूकी, मारपीट व छीना-झपटी नहीं की। स्कूल के शिक्षक-शिक्षिकाओं से भी इस मामले में पूछताछ की गई। 

सीआई बिजारणिया ने बताया कि छात्रा का स्कूली होमवर्क पूरा नहीं था। शिक्षकों से उसे डांट पड़ी थी, जिससे वह घबराई हुई थी। घरवालों की डांट से बचने के लिए उसने यह झूठी कहानी गढ़ी। उसने परिजनों को बताया कि रास्ते में बाइक पर आए दो युवकों ने उसे रोक लिया और चांटे मारे व आईडी कार्ड-टाई छीन ले गए।

 इस संबंध में बालिका के पिता ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ गंगाशहर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। तथा परिजनों तथा क्षेत्रवासियों ने इस मुद्दे को लेकर स्कूल में काफी हंगामा किया था। लड़की के परिजनों में स्कूल के आगे व मुरलीधर व्यास कॉलोनी टंकी वाले चौराहे पर प्रदर्शन भी किया था। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker