जयपुरबीकानेरबीकानेर संभागराजस्थानश्रीडूंगरगढ़

नामी सट्टेबाज़ों की महफूज़ पनाहगार बना बीकानेर, पुलिस की भूमिका शक के दायरे में

बीकानेर। आईपीएल में क्रिकेट सट्टेबाजी का महफूज़ पनाहगार बने बीकानेर के श्रीडूंगरगढ इलाके में बीती रात सातलेरा गांव की एक ढाणी में चल रहे क्रिकेट बुकी के बड़े ठिकाने का पर्दाफाश होने के बाद यहां सट्टा जगत में हड़कंप सा मच गया है।

जानकारी के अनुसार गांव विनोद डागा के खेत की ढाणी में चल रहे क्रिकेट सट्टेबाजी के ठिकाने पर पकड़े गये चारों बुकियों शंकर लाल पेडि़वाल,आंनद डागा,मनोज लखोटियां और कैलाश पेडि़वाल के तार सट्टेबाजी के अंतरर्राष्ट्रीय गिरोह शामिल बीकानेर के नामी क्रिकेट बुकी प्रकाश सेठियां,डबल एस,हरीश चांडक,बबलू माली,संतोष सुराणा,सोनावत जुड़े हुए है। यह भी खुलासा हुआ है कि श्रीडूंगरगढ के यह चारों नामी बुकी पुलिस से बचने के लिये लगातार अपने ठिकाने बदल रहे थे. पिछले सप्ताह तक इन्होने अपना ठिकाना राजदेसलर की एक ढाणी में बना रखा था।

नेटवर्क का हो सकता है खुलासा, मगर कब 

क्रिकेट सट्टेबाजी के साथ हवाला कारोबार में लिप्त यह चारों बुकी आईपीएल के इस सीजन में अब तक पचास करोड़ से ज्यादा धनराशि हवाला के जरिये अंतरर्राष्ट्रीय गिरोह तक पहुंचा चुके है। पकड़े गये बुकियों में शामिल कैलाश पेडि़वाल और शंकरलाल पेडि़वाल आईपीएल सीजन के पिछले सीजन में सट्टेबाजी करते पुलिस के हत्थे चढ चुके है। श्रीडूंगरगढ थाना प्रभारी विष्णुदत्त ने बताया कि पकड़ में आये चारों बुकियों से पूछताछ और इनके पास बरामद हुए रिकॉर्ड रजिस्टर तथा मोबाईल कॉल डिटेल में बीकानेर क्रिकेट सट्टा जगत के कुख्यात बुकियों के नाम उजागर हो सकते है।

रातों-रात बदल लिए ठिकाने 

जानकारी के मुताबिक रविवार की रात श्रीडूंगरगढ इलाके में हुई पुलिस कार्यवाही बड़े बुकियों के पकड़े जाने सूचना मिलते ही यहां बीकानेर शहर समेत गंगाशहर-भीनासर में सक्रिय कुख्यात बुकियों प्रकाश सेठियां,डबल एस,हरीश चांडक,बबलू माली,संतोष सुराणा,सोनावत ने रातोंरात अपने ठिकाने बदल लिये।

जानकारी में रहे कि श्रीडूंगरगढ थाना पुलिस ने रविवार की शाम बड़ी कार्यवाही करते हुए सातलेरा गांव के एक खेत की ढाणी में चल रही क्रिकेट बुक का पर्दाफाश कर मौके पर चार सट्टोरियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से करीब १४ हजार रूपये नगदी समेत तेरह मोबाईल,एक लैपटॉप,एलईडी तथा लाखों रूपये की सौदेबाजी के हिसाब का रजिस्टर बरामद किया।

पुलिस को मिल चुके है पुख्ता सुराग

खबर है कि आईपीएल के इस सीजन में पुलिस अब क्रिकेट सट्टेबाजी के कई ठिकानों का पर्दाफाश करने के साथ गिरफ्त में आये दर्जनों सट्टोरियें से बीकानेर क्रिकेट सट्टा जगत के कुख्यात प्रकाश सेठियां,डबल एस,हरीश चांडक,बबलू माली,संतोष सुराणा,सोनावत वगैरहा के बारे में पुख्ता साक्ष्य सबूत जुटा लिये है,पुलिस ने इस बात की पुख्ता ढंग से पता लगा लिया है कि इन कुख्यात बुकियोंं के तार मुंबई,नागपुर,दिल्ली समेत दूबई में बैठे अंतरर्राष्ट्रीय सट्टा और हवाला कारोबारियों से जुड़े हुए है लेकिन इसके बावजूद भी क्रिकेट सट्टा के इन कुख्यातों के गिरेंबा में हाथ नहीं डालने से पुलिस के कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे है।

बीकानेर बना है महफूज ठिकाना 

हालांकि जिला पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा यहां क्रिकेट सट्टेबाजी पर प्रभावी अंकुश लगाने का दावा कर रहे है, मगर लगता है उनको अधीनस्थ अधिकारियों का सहयोग नहीं मिल रहा है। अन्यथा कोई कारण नहीं है कि पुलिस अधीक्षक की सख्ताई के बावजूद अवैध कारोबार चलता रहे। सटोरियों में ज्यादा भय इसलिए भी नहीं है कि पकड़े जाने के बाद उनकी थाने में ही जमानत हो जाती है। नकदी पास में नहीं होने के कारण ज्यादा नुकसान भी नहीं होता है। इसके बाद कोर्ट में इस्तगासा पेश होता है। अगर सजा भी होती है तो केवल दो सौ रुपए जुर्माने की।

पुलिस की सख्ताई के दावो के बीच आईपीएल के इस सीजन में बड़े पैमाने पर चल क्रिकेट सट्टेबाजी कारोबार को लेकर पुलिस पर सीधे तौर पर आरोप लग रहे है कि बड़े सट्टोरियों की पुलिस के साथ सेंटिग के कारण बीकानेर में यह कारोबार बड़े पैमान पर चल रहा है और बीकानेर को सट्टेबाजी का महफूज ठिकाना मानकर नागौर,श्रीगंगानगर ओैर हनुामनगढ जिलों से कुछ सटोरिए यहां आकर गुमनाम तरीके यहां अपनी बुक चल रहे है।

लेख साभार – राजस्थानी चिराग 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker