बज्जूबीकानेर संभाग

बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट से बारदाने में लगी आग, करीब 50 बोरी जलकर स्वाह

कृषि उपज मंडी में मंडी परिसर के ऊपर से गुजर रही बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट होने से कचरे की ढेरी में आग लग गई

बज्जू. कस्बे के रणजीतपुरा सड़क मार्ग पर स्थित कृषि उपज मंडी में मंडी परिसर के ऊपर से गुजर रही बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट होने से कचरे की ढेरी में आग लग गई। मंडी व्यापारियों, मुनिमों व पल्लेदारों की सूझबूझ से बुझाई गई। रविवार दोपहर तेज हवा के कारण बिजली के तार आपस में टकरा गए और तारों के टकराने से दुकानों के पीछे जिंसों के कचरे में ङ्क्षचगारी से आग लग गई और देखते ही देखते आग ने करीब ४० से ५० फुट क्षेत्र में कब्जा कर लिया।


50 बोरी जल कर हुई राख 

मंडी डॉयरेक्टर मदनसिंह भाटी, गोपीराम जाट, सुजानाराम जांगू, भंवरलाल मंूड भागे और आग पर पानी की बाल्टियों, पानी टैंकरों व मिट्टी से आग बुझाने का प्रयास शुरू किया। मंडी में आग की सूचना पर दर्जनों व्यापारी, मुनीम व पल्लेदार जमा हो गए और आग पर काबू पाया। आग इतनी तेज थी कि कचरे से कुछ दूरी पर लगे बार बारदाने की ढेरी में आग लग गई जिससे करीब ५० बोरी स्वाह हो गई। बलवन्तदान, सुरेन्द्र चौधरी, राधेश्याम पूनियां, घनश्याम,भंवर धायल आदि ने भी प्रयासों से बिजली कटवाई और आग पर काबू पाया।


प्रशासन की लापरवाही आयी सामने 

आग की सूचना व सजगता से मंडी परिसर में हजारों जिंसों की बोरियां स्वाह होने से बच गई। व्यापारियों ने बताया कि जिंसों की दर्जनों व्यापारियों की हजारों बोरियां रखी हुई थी जो व्यापारियों ने आग बढने से पहले रोकने का सफल प्रयास किया।लाइन को हटाने को लेकर कृषि मंडी व्यापारी लम्बे समय से संघर्ष कर रहे हंै,मगर प्रशासन की लापरवाही के चलते इस लाइन को हटाया नही जा रहा है


जिससे आए दिन व्यापारियों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कच्ची आढ़त व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष मांगीलाल भाम्भू,कच्ची आढत व्यापार संघ अध्यक्ष भागीरथ ज्याणी व मंडी चेयरमैन खींव सिंह भाटी ने बताया कि आग दिन के समय लगी जिससे इस पर समय रहते काबू पा लिया गया,अगर रात के समय लगती तो दर्जनों व्यापारियों को लाखों का नुकसान हो जाता।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker