बीकानेरमहाजनराजस्थान

टैंकों की गर्जना से थर्राया मरुधर प्रदेश, तीसरे दिन भी युद्धाभ्यास जारी , देखें वीडियो

महाजन. यहां करीब 45-50 डिग्री तापमान में आग उगल रहे रेतीले धोरों के बीच भारतीय सेना  के जांबाज अपने रणकौशल का परिचय दे रहे है। सेना की दक्षिणी-पश्चिमी कमान द्वारा विश्व स्तरीय ट्रेनिंग नोड के रूप में तैयार की गई महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में रेत के समन्दर के बीच युद्धक टैंक बमबारी कर रहे है। भीषण गर्मी में पसीना बहा रहे सैनिक अभ्यास से रणकौशल को निखार रहे है  सुबह-शाम के समय रेंज एरिया में युद्धाभ्यास में होने वाले बम धमाकों से एरिया से सटे गंावों में रोमांच बना हुआ है। रेंज के नॉर्थ कैम्प को जाने वाली सड़क पर सेना की गतिविधियां बढ़ गई है।

‘ विजय प्रहार ‘ में 20 हजार सैनिक शामिल 

महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में चल रहे 20 हजार भारतीय सैनिकों के युद्धाभ्यास ‘ विजय प्रहार ‘ के तीसरे दिन गुरुवार को जमीन और आसमान में दुश्मन से युद्ध का अभ्यास किया गया। एक साथ थल और वायु सेना के सैनिकों, हेलीकॉप्टर और लड़ाकू विमानों के साथ आधुनिक हथियारों से हमला बोला गया। आक्रमण में जमीन से आसमान तक दुश्मन को कहीं भी छिपने की जगह नहीं मिली।

शक्ति कमाण्ड के हमलावर फोर्मेशन के सैनिक महाजन रेंज में चल रहे अभ्यास ‘विजय प्रहार ‘ में भाग ले रहे हैं। उपग्रह से लेकर आधुनिक सेंसर की एक बड़ी संख्या में इमेजरी, नाइट विजन डिवाइसेज, पायलट कम ड्रॉन और लंबी दूरी की उच्च परिशुद्धता राडार द्वारा दुश्मन की गतिविधियों की वास्तविक समय पर जानकारी प्राप्त करने के लिए इनपुट का एकीकरण किया है। अभ्यास में त्वरित और सटीक निर्णय लेने के लिए स्वचालित निर्णय समर्थन प्रणाली में विभिन्न सेंसर से प्राप्त इनपुट को भी एकीकृत किया। ड्रिल प्रक्रियाओं और मुख्य मशीन एकीकरण को और परिष्कृत किया गया। 

जमीन से आसमान तक दुश्मन को कहीं जगह नहीं

अभ्यास के दौरान कमांडरों ने कहा कि हवा में आधुनिक उपकरणों की आंखें और अत्याधुनिक हथियारों से लैस जमीन पर सैनिकों और समन्वय और सूचनाओं के आदान-प्रदान से विरोधी के पास अब छिपने के लिए कहीं जगह नहीं है। अभ्यास में शामिल एक सैनिक ने कहा कि ‘वे जितना चाहें उतना दौड़ सकते हैं लेकिन हम दुश्मन को बर्बाद कर देंगे।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker