बीकानेर

झुलसाती गर्मी से बेहाल हुआ बीकानेर शहर, तापमान 45.6 डिग्री के पार …

बीकानेर। सूर्य की तपिश व लू के थपेड़ों ने शनिवार को आमजन को पूरी तरह से झकझौर दिया। आलम ये था कि सड़कों व गली-मोहल्लों में तो जैसे कफ्र्यू लग गया हो। पूरी तरह से गली-मोहल्लों में सन्नाटा पसरा रहा तथा गर्मी से राहत पानी के लिए लोग कूलर, एसी की शीतल हवा तथा ठंड से बाहर नहीं निकल पाए। 

तेज़ गर्म हवाओं के थपेड़े से बेहाल जन-जीवन 

सूर्य ने उदय होने के साथ शनिवार को आग उगलना शुरु कर दिया। दिन चढऩे के साथ-साथ सूर्य का रौद्र रूप देखने को मिला। सूर्य किरणों की तपिश इतनी अधिक थी कि शरीर में नश्तर की तरह चुभ रही थी। उस पर चलने वाली गर्म हवा लू ने कोढ़ में खाज का काम किया। हालांकि मौसम विभाग ने अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस होने का दावा किया है, किंतु शनिवार की गर्मी को देखते हुए तथा धरातल पर तापमान इससे कहीं अधिक था। सूर्य के रौद्र रूप के चलते न्यूनतम व अधिकत्तम तापमान में कोई खास फर्क नहीं रह गया।

न्यूनतम तापमान 29.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। औसतन 3 किलोमीटर की रफ्तार से चली गर्म हवा ने किरणों की तपिश में घी डालने का काम किया। जिसके कारण घरों, दुकानों में कामकाज प्रभावित रहा। व्यवसाय तो इस चिलचिलाती धूप व लू की वजह से प्राय: ठप होकर रह गया।

किसानों की बढ़ी चिंता

यूं तो इस गर्मी से हर कोई आहत व पशु-पक्षी भी बेहाल नजर आ रहे है, किंतु सर्वाधिक नुकसान भूमिपुत्रों को उठाना पड़ रहा है। फसल की बिजाई का वक्त बीतता चला जा रहा है। उसके चलते अभी तक नहरी क्षेत्र के किसानों को सिंचाई पानी उपलब्ध तक नहीं हो पाया है। उस पर वतावरण में लगातार घटती चली जा रही नमी किसानों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है।जहां नहरी क्षेत्र के किसान पानी नहीं मिलने से परेशान है।

वहीं कृषि नलकूप क्षेत्र के किसान घटती आद्र्रता, सुचारू विद्युत आपूर्ति नहीं मिलने तथा अधिक सिंचाई पानी की जरुरत को लेकर मुश्किल में दिखाई दे रहे है। शनिवार को सवेरे वातावरण में आद्र्रता 16 थी। जो कि शाम होने तक घटकर 5 पर पहुंच गई। यदि इसी प्रकार खेतों से नमी उड़ती रही तो इसका प्रतिकूल असर उत्पादन भी देखने को मिल सकता है।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker