देश

त्रिपुरा में इतिहास बनाने के बाद BJP मुख्यालय में अमित शाह, किया गया भव्य स्वागत

त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा सीटों में से 59 पर शनिवार को हो रही मतगणना में सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है

ई दिल्ली. त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा सीटों में से 59 पर शनिवार को हो रही मतगणना में सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है। दूसरी तरफ चुनाव नतीजे से उत्साहित अमित शाह दिल्ली हेडक्वार्टर पहुंच गए हैं और शाम  4 बजे  प्रेस कांफ्रेंस करेंगे।

राज्य में 18 फरवरी को चुनाव से एक सप्ताह पहले चारीलाम सीट से सीपीएम के उम्मीदवार के निधन के बाद इस सीट को छोड़कर बाकी 59 सीटों पर मतदान हुए थे। त्रिपुरा में वर्ष 1993 से ही सीपीएम के नेतृत्व वाले वाम मोर्चा की सरकार रही है, लेकिन दो एग्जिट पोल में इस बार बीजेपी की सरकार बनने का अनुमान लगाया गया है। बीजेपी को उम्मीद है कि इस बार पूर्वोत्तर राज्यों में भी उनका खाता खुलेगा। 

मतगणना से पहले हालांकि सीपीएम और बीजेपी दोनों ने दावा किया है कि उसकी सरकार बनने जा रही है. तीनों राज्यों में विधानसभा की 69 से 60 सीटें हैं. त्रिपुरा में मतदान 18 फरवरी को और मेघालय व नगालैंड में मतदान 27 फरवरी को हुआ था.वर्ष 2013 के चुनाव में बीजेपी ने त्रिपुरा में 50 उम्मीदवार उतारे थे, जिनमें से 49 की जमानत जब्त हो गई थी। मात्र 1.87 फीसदी वोट मिलने के कारण यह पार्टी एक भी सीट नहीं जीत पाई थी।

वहीं माकपा को 55 में से 49 सीटें मिली थीं. कांग्रेस 48 सीटों पर लड़ी थी और उसे 10 सीटों से संतोष करना पड़ा था. मेघालय में इस बार 84 फीसदी मतदान हुआ था। सत्तारूढ़ कांग्रेस के अलावा बीजेपी, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और नवगठित पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट मुकाबले में था। वर्ष 2013 के चुनाव में बीजेपी ने इस राज्य में 13 उम्मीदवार उतारे थे, मगर कोई जीत न सका था. एनपीपी को 32 में से मात्र दो सीटें मिली थीं। नगालैंड में बीजेपी इस बार नवगठित नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के साथ गठबंधन कर चुनावी अखाड़े में उतरी। दोनों ने क्रमश: 20 और 40 सीटों पर उम्मीदवार उतारे. सीवी वोटर के सर्वे में बीजेपी-एनडीपीपी गठबंधन की सरकार बनने के आसार बताए गए हैं।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker