बीकानेर

बीती रात हुए हंगामे को लेकर गोपाल गहलोत की सफाई यशपाल अभी भी मौन

बीकानेर। शुक्रवार-शनिवार की आधी रात को कांग्रेसी नेताओं व समर्थकों के बीच आपसी झगडे पर अब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्‍य गोपाल गहलोत ने लगभग 12 घंटे बाद अपनी चुप्‍पी तोडी है। घटना को लेकर विधानसभा के उमीदवार गोपाल गहलोत ने घटना का खंडन किया है। 

उन्होंने इसे मामूली मोहल्ले की बच्चों की लड़ाई करार दिया है।  घटना पर उन्होंने कहा है उनके और यशपाल के बीच किसी तरह का मनमुटाव नहीं है। जो भी घटना हुई है वो महज़ अफवाह के रूप में फैलाई गयी है।  लेकिन इस पुरे मामले को लेकर शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल गहलोत चुप्पी साधे हुए है उनकी और से अभी तक कोई प्रक्रिया नहीं आयी है।  

आखिर सच क्यों छुपा रहे कांग्रसी नेता 

आधीरात में  हुए इस  घटनाक्रम से कांग्रेस को भारी नुकसान हुआ है। अब डेमेज कंट्रोल करना जरुरी हो गया है। कांग्रेस पार्टी और उसके जुड़े नेता घटना से इनकार कर रहे हो, मगर रात 12 बजे से लेकर सुबह चार बजे तक चक्करघन्नी रही पुलिस इस बात का गवाह है की ये कोई मामूली झगड़ा तो नहीं हो सकता।  दूसरी और मौके पर गए पुलिस कर्मी तो झूठ नहीं बोल सकते बच्‍चो के झगडे में कैसे इतनी बड़ी तोड़-फोड़ और  मोटर साईकल को जला दिया जाता है। 

सोशल मीडिया पर जारी हुआ गोपाल गहलोत का बयान 

सोशल मीडिया पर जारी अपने बयान में गोपाल गहलोत ने कहा कि आज कांग्रेस नेताओं की लड़ाई को लेकर मीडिया में जो बात चल रही है वो पूरी तरह से गलत है, ऐसी कोई बात नहीं है। कल रात को बच्चों की आपसी छोटे से हुवे झगड़े को बड़ा तूल दिया गया है, मैं इसका पूरी तरह से खंडन करता हूं।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker