त्यौहार

विड़ियो: गणगौर संस्कृति महोत्सव में हु़आ सम्मान, गूंजी गीतों की स्वर लहरियां….

राजस्थानी साफा पाग, पगड़ी व कला, संस्कृति संस्थान की ओर से पुष्करणा स्टेडियम के पीछे गणगौर संस्कृति महोत्सव 2017 का आयोजन किया गया। महोत्सव में बीकानेर की दो गणगौर गीत मंडलियों ने पारम्परिक, प्रचलित गणगौर गीतों के माध्यम से रात भर श्रद्धालुओं को बांधे रखा। 

महोत्सव स्थल पर गणगौर ईसर तथा भाइए की प्रतिमाओं का गीतों व मंत्रों से पूजन किया। राबडिय़ा सहित विविध व्यंजनों का भोग लगाया गया तथा पुष्पवर्षा की गई।

गणगौर गीतों के प्रमुख गायक जुगल किशोर ओझा, जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी हरि शंकर आचार्य सहित करीब एक दर्जन से अधिक कलाकारों का संस्था की ओर से सम्मान किया गया।

                 

 

गणगौर की खोल भराई 


रामदेव सेवा समिति की ओर से गुरुवार को रानीसर बास में गणगौर मेला भरा गया। जिसमें महिलाएं अपने घर से गणगौर को लेकर नाचते-गाते रामदेव मंदिर प्रांगण पहुंची।

इस दौरान  गणेश गहलोत, विजयलक्ष्मी द्वारा 500 गणगौर की खोल भराई गई। मेले में जुगलकिशोर ओझा ने गणगौर के भजन प्रस्तुत किए। कार्यक्रम में सहसंयोजक रामेश्वर सोलंकी, पप्पू सोलंकी का सहयोग रहा

सौ. पत्रिका

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker