बीकानेर

स्वास्थ्य सेवाओं की रैकिंग में पिछड़ा बीकाणा, बड़े-बड़े दावों की पोल खुली !

बीकानेर। चिकित्सा विभाग की ओर से स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति जानने के लिए प्रदेश स्तर पर की गई रैंकिंग में बीकानेर जिला पूरी तरह फिसड्डी साबित हुआ है। चिकित्सा सेवाओं के सुधार के लिये करोड़ो रूपये खर्च किये जाने के बावजूद भी विभाग की रैकिंग में पिछडे बीकानेर जिले की स्थिति को भंापकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग निदेशालय ने यहां सीएमएचओं से जवाब तलब किया है।

स्वास्थ्य अधिकारियों की बोलती बंद

चिकित्सा सेवाओं की रैंक रही दयनीय स्थिति कारण बीकानेर इस बार ३०वें नंबर पर आया है,जिसे महज 26.71 अंक मिले है। इस रैकिंग में संभाग का श्रीगंगानगर,हनुमानगढ और चुरू जिला भी बीकानेर से ऊपरी पायदान पर रहा है। पिछली दफा की तरह इस बार भी स्वास्थ्य सेवाओं की रैकिंग में पिछड़े बीकानेर के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों की बोलती बंद है।

हालांकि सीएमएचओं डॉ.देवेन्द्र चौधरी का दावा कर रहे है कि बीकानेर में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति अन्य जिलों से बेहतर है और चिकित्सा विभाग की टीम यहां सराहनीय कार्य कर रही है। फिर बीकानेर की रैंकिग दयनीय क्यों है? इसका जबाव सीएमएचओं के पास भी नहीं है।

 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker