धर्मबीकानेर संभाग

बीकानेर तीन दिवसीय संस्कारवर्धन शिक्षण शिविर का समापन

बीकानेर तीन दिवसीय संस्कारवर्धन शिक्षण शिविर का समापन मंगलवार को विभिन्न कार्यकर्मो के साथ किया गया| जैनचार्य जिन मणिप्रभ सागर सुरिश्वर जी महाराज, मुनि मानित सागर, साध्वी डॉ. प्रिय श्रदांजनश्री, साध्वी श्रेष्ठाजनाश्री, साध्वी मुद्राजनाश्री के साथ ही साध्वी मैत्रीपूर्ण श्री, साध्वी जिनाश्री के सानिध्य में हुए समापन समोराह में जैनाचार्य श्री ने शिविर में हासिल किये गये संस्कारों को आत्मसात करने अहवान किया| इस मौके पर शिविर में शामिल बालक – बालिकाओं ने चेतना गीतों की प्रस्तुती दी | इससे से पूर्व जैनाचार्य श्री ने ढढ़ा कोटडी में पर्वचन देते हुए संस्कार, धर्म और इमान का त्याग नहीं करने की बात कही| इस दौरान श्री आदिनाथ कुशल भक्त मंडल का गठन किया गया|

संस्कार वर्धक शिक्षण शिविर प्रारंभ

 

छबीली घाटी स्थित सेवासदन में बालक-बालिकाओं के लिए आयोजित इस शिविर का आरंभ जैनाचार्य श्री ने मंगलपाठ के साथ किया। साध्वी डॉ.प्रियश्रद्धाजंनाश्री के संयोजन में शिविर के प्रथम दिन मुनि मनित प्रभ सागर ने जैन जीवन शैली, भिवंडी की मधु बेन ने गवली, प्रन्यास प्रवर पुंडरीकर| सूरीश्वर जी ने आहार शुद्धि पर विशेष व्याख्यान देकर बाल-बालिकाओं का मार्गदर्शन किया। वहीं जैनाचार्य श्री ने दिगंबर जैन नसिया जी में प्रवचन देते हुए जीवन को दीपक के समान बताया| 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker