देश

फ्लाइट में यात्रियों के नाक-कान से बहने लगा खून, हैरान कर देने वाला सच आया सामने !

मुंबई: जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर की फ्लाइट गुरुवार सुबह मुंबई हवाई अड्डे पर उस वक्त वापस लौट आई जब कम दबाव के चलते यात्रियों के नाक और कान से खून बहने लगा। उप महानिदेशक ललित गुप्ता (डीजीसीए) ने बताया कि विमान में क्रू ने एक ने स्विच ऑन नहीं किया जो केबिन दबाव को संतुलित बनाए रखता है। क्रू की गलती के कारण विमान के 166 यात्रियों की जान पर बन आई। जेट एयरवेज़ की उड़ान को टेकऑफ के कुछ देर बाद ही मुंबई एयरपोर्ट पर वापस उतारना पड़ा, क्योंकि उस वक्त क्रू केबिन प्रेशर को संतुलित रखने का स्विच दबाना भूल गया था।

क्रू की इस गलती के कारण विमान में सवार 166 में से 30 यात्रियों के नाक-कान से खून बहने लगा। जबकि कुछ यात्रियों ने सिरदर्द की शिकायत भी की। उस वक्त ऑक्सीजन मास्क लगाकर स्थिति पर काबू पाने की कोशिश की गई। फिलहाल इनका इलाज मुंबई एयरपोर्ट पर किया जा रहा है। क्रू फ्लाइट 9 डब्ल्यू 697 में उड़ान के दौरान केबिन प्रेशर को केबिन प्रेशर को संतुलित रखने का स्विच दबाना भूल गया। वहीं, यात्रियों की हालत खराब होने के बाद विमान को तुरंत मुंबई एयरपोर्ट पर वापस लैंड कराया गया। जिन 30 यात्रियों के नाक-कान से खून बह रहा था उनका इलाज एयरपोर्ट पर ही किया जा रहा है।

जबकि डीजीसीए ने बताया कि क्रू को ड्यूटी से हटा दिया गया है और इस मामले में जांच शुरू कर दी गई है। वहीं, यात्रियों के चेहरे पर डर साफ देखा जा सकता था। मुंबई एयरपोर्ट पर विमान को वापस लैंड कराने के बाद जब यात्री बाहर आए,कई बेहद सहमे हुए थे। जेट एयरवेज ने इस लापरवाही पर खेद जताया है। वहीं, इस मामले का संज्ञान लेते हुए नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने डीजीसीए से रिपोर्ट तलब की है।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker