बीकानेर

पंचायती राज और शहरी निकाय के जनप्रतिनिधियों से राहुल गांधी ने किया सीधा संवाद

पंचायती राज व्यवस्था से जुड़े हुए 73वें और 74वें संविधान संशोधनों की मनाई जाने वाली 25वीं वर्षगांठ को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में कांग्रेस के अग्रीम संगठन राजीव गांधी पंचायती राज संगठन पूरे देश में कार्यक्रम आयोजित कर रहा है

 

नई दिल्ली । पंचायती राज व्यवस्था से जुड़े हुए 73वें और 74वें संविधान संशोधनों की मनाई जाने वाली 25वीं वर्षगांठ को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में कांग्रेस के अग्रीम संगठन राजीव गांधी पंचायती राज संगठन पूरे देश में कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। जिसके चलते शुक्रवार को दिल्ली में राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के बैनर तले पंचायती राज और शहरी निकाय के जनप्रतिनिधियों से राहुल गांधी ने सीधा संवाद किया । इस संवाद कार्यक्रम में देशभर के 19 राज्यों से पंचायती राज और शहरी निकायों के जनप्रतिनिधियों ने भाग लिया । जिसमे राजस्थान से चुनिंदा 20 जनप्रतिनिधि शामिल हुए।



कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र और राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनने पर विकेन्द्रीकरण की प्रक्रिया को और गहरा किया जाएगा, संगठन के भीतर स्थानीय निकायों के जनप्रतिनिधियों को अब ज्यादा अवसर प्रदान किए जाएंगे । इस दौरान राहुल गांधी ने हर प्रक्रिया में पंचायती राज संस्थाओं के चुने हुए जनप्रतिनिधियों को तवज्जो देने और युवाओं को स्थानीय निकायों के चुनाव लड़ने के लिए प्रोत्साहित करने पर भी जोर दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार और भाजपा शासित राज्य सरकारें पंचायती राज संस्थाओं में विकेंद्रीकरण और सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया को कमजोर करने में लगी हुई है।



इस दौरान राहुल गांधी ने जनप्रतिनिधियों के तमाम सवालों के जवाब भी दिए। इस संवाद कार्यक्रम में कांग्रेस के संगठन प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत, राजीव गांधी पंचायती राज संगठन राष्ट्रीय अध्यक्ष मीनाक्षी नटराजन और संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हर्षवर्धन सपकाल भी उपस्थित रहे ।

राजस्थान से राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश संयोजक अमित पुनिया के नेतृत्व में पंचायती और शहरी निकाय के 20 जनप्रतिनिधियों ने संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिया, जिसमे एस सी श्रेणी के 10, एसटी श्रेणी के 5 और महिला श्रेणी के 5 जनप्रतिनिधि थे। उक्त जनप्रतिनिधियों की सूची को संगठन के प्रदेश संयोजक अमित पुनिया ने अंतिम रूप दिया । पुनिया ने प्रदेश के कई हिस्सो से एआईसीसी की गाईड लाइन और नियमों के आधार पर कर्मठ और सक्रिय जनप्रतिनिधियों का चयन किया । जिसमें बीकानेर जिले से जिला प्रमुख श्रीमती सुशीला सींवर का चयन हुवा।



जिन्होंने संवाद कार्यक्रम में शामिल होकर अपने अपने क्षेत्र के जनता से जुड़े मुद्दों से अवगत करवाते हुए पंचायती राज सिस्टम को मजबूती प्रदान करने सम्बधित अपने सुझाव दिए । सुशीला सींवर ने विशेष रूप से बीकानेर जिले में जनता के गंभीर मुद्दों एंव मनरेगा योजना की विफलताओ से अवगत करवाया साथ ही इन क्षेत्रों में पंचायती राज जनप्रतिनिधियों की विशेष समस्याओं के बारे में प्रमुखता से अपने विचार व्यक्त करते हुए निस्तारण हेतु सुझाव दिए ।

इसी प्रकार अन्य जिलों समेत कुल 20 जनप्रतिनिधियों का चयन हुआ जिन्होंने संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए जनता से जुड़े मुद्दों पर अपने – अपने सुझाव दिए तथा सभी महिला जनप्रतिनिधियो सहित बीकानेर जिला प्रमुख सींवर ने राहुल जी गाँधी से अवगत करवाते हुवे कहा की राजस्थान में आने वाले विधानसभा चुनाव में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने को कहा।



 

इस पर राहुल गाँधी ने आश्वासन दिया की पंचायतीराज संस्थाओ से जुड़े बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी ! और राहुल गाँधी ने आश्वस्त किया की भाजपा सरकार ने नरेगा और अन्य स्वायत संस्थाओ के अधिकारों में जो कमी की है उनको कांग्रेस की सरकार आने पर वापस दिलाएगी आपको बता दें कि राजीव गांधी पंचायती राज संगठन की ओर से आने वाले दिनों में 25 वीं वर्षगांठ पर प्रत्येक राज्य में सम्मेलन आयोजित किये जायेंगे ।जिसमें विकेंद्रीकरण की प्रक्रिया को और मजबूत करने पर विशेष जोर जाएगा ।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker