बीकानेर

आखिर एक माँ ने क्यों उठाया ये कदम, बीकानेर में ये तीसरी घटना !

बीकानेर। राजकीय जिला अस्पताल के पालनाघर में बुधवार सुबह कोई अज्ञात महिला एक वर्षीय बालक को छोड़ गई। इसकी सूचना मिलते ही अस्पताल के चिकित्सकों और नर्सिग स्टाफकर्मियों ने बच्चे को संभाला और उसका स्वास्थ्य परिक्षण एवं टीकाकरण वगैरहा करवाकर गुरूवार को कानूनी प्रक्रिया के तहत शिशुगृह को सौंप दिया। जिला अस्पताल प्रभारी डॉ. बीएल हटीला ने बताया कि बच्चा पूरी तरह स्वस्थ और एतिहात के तौर पर उसकी स्वास्थ्य संबंधी जांचे करवा ली गई है।

जानकारी में रहे कि जिला अस्पताल में पालनाघर स्थापित होने के बाद यह तीसरा बच्चा मिला है। डॉ.हटीला ने बताया कि बच्चे का पालनाघर में छोड़कर जाने पर पुलिस मुकदमा नहीं बनाया जाता और संबंधित परिजन की पहचान भी गुप्त रखी जाती है।यहां पर बच्चे को छोड़कर जाने के एक मिनिट बाद अलार्म बजता है, जिससे अंदर बैठे अधिकारी व कर्मचारियों को सूचना पहुंच जाती है। वे बच्चे को लाकर सबसे पहले उसकी स्वास्थ्य जांच करवाते है, स्वस्थ नहीं होने पर उसका इलाज करवाते है।

बच्चा स्वस्थ है तो उसे शिशु गृह में को सौंप दिया जाता है। वह उसकी देखभाल करती है। दो महीने बाद उसे लीगल फ्री करवाकर आगे की गोदनामा कार्यवाही की जाती है।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker