छत्तरगढ़बीकानेर संभाग

दोस्तों ने दिया धोखा, पहले शराब पिलाई फिर गला घोंट कर कुँए में फेंक दिया

बीकानेर। छत्तरगढ के सत्तासर भाटियान में हुई हत्या की संगीन वारदात में दो जनों ने अपने दोस्त को साथ बैठाकर शराब पिलाई फिर उसकी गलाघोंट कर हत्या के बाद लाश को जोहड़ पायतान के कुंए में फेंक दिया। रविवार देर रात कुएं में लाश मिलने की सूचना के बाद मौके पर पहुंची छत्तरगढ पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर शिनाख्तगी करवाई तो खुलासा कि मृतक राजसर भाटियान का बस कंडक्टर लाल खां पुत्र सुमेर खां है,जो शनिवार देर शाम से लापता था और उसकी गुमशुदगी भी थाने में दर्ज है।

प्रेम प्रसंग के चलते हुई हत्या 

हत्या की इस संगीन वारदात के सिलसिले में प्रारंभिक जांच पड़ताल में खुलासा हुआ है कि २० वर्षीय लाल खां को शनिवार की शाम कैला में रहने वाले उसके दोस्त लियाकत अली पुत्र नत्थुखां तथा चंदूराम अपने साथ बाईक पर बैठाकर ले गये थे,इन तीनों ने राजासर भाटियान के जोहड़ पायतान क्षेत्र में सुनी जगह पर बैठकर शराब पी। इस दरम्यान तीनों के बीच किसी बात का लेकर झगड़ा हुआ और झगड़ेबाजी में लियाकत अली और चंदूराम ने लाल खां की गला घोंट कर हत्या करने के बाद लाश को मौंके पर कुंए में फेंक दिया।

हालांकि हत्या के कारणों को फिलहाल खुलासा नहीं हुआ है लेकिन पुलिस के सुनने में आया है कि लाल खां की हत्या प्रेम प्रसंग के चलते की गई है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में मृतक के भाई मुश्ताक खां की रिपोर्ट पर हत्या का केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है और पूछताछ के लिये आरोपी लियाकत अली तथा चंदूराम को हिरासत में लिया है।

यह दर्ज कराई है रिपोर्ट

मृतक के भाई मुश्ताक खां ने पुलिस को दी एफआईआर में बताया है कि मेरा भाई लाल खां को शनिवार शाम लियाकत अली और चंदूराम अपने साथ बाईक पर बैठाकर ले गये और गांव में सुनसान जगह पर ले जाकर उसे शराब पिलाने के बाद उसकी हत्या कर लाश को कुंए में फेंक दिया। थाना प्रभारी विकास विश्रोई ने बताया कि मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों को सौंप दिया और मौका वारदात मिले साक्ष्य सबूत के आधार पर हत्या के इस मामले की गहनता से जांच कार्यवाही की जा रही है।

भागने की फिराक में थे दोनों आरोपी

बताया जाता है कि लाल खां की हत्या के बाद दोनों आरोपी लियाकत अली और चंदूराम रविवार को पूरे दिन पुलिस को गुमराह करते रहे,लेकिन शक सुई इन दोनों पर ही टिकी हुई थी इसलिये पुलिस लगातार इनकी निगरानी में जुटी हुई थी। रविवार देर शाम दोनों ने फरार होने की योजना भी बनाई लेकिन इससे पहले ही पकड़ में आये चंदूराम ने हत्या कर राज उगल दिया और उसकी निशानदेही पर परिजनों के साथ मौका स्थल पर पहुंची पुलिस ने कुएं से मृतक लाल खां की लाश बरामद कर ली।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker