नोखाबीकानेर संभाग

साठिका प्रकरण : नोखा में निषेधाज्ञा के बावजूद हनुमान बेनीवाल ने निकाली पदयात्रा

धारा  144 लागू  ( निषेधाज्ञा ) होने के बावजूद प्रशासन की बिना स्वीकृति के खींवसर विधायक ने नोखा में मौन रैली निकाली तथा साठिका संघर्ष समिति के बेमियादी धरने पर पहुंचकर सरकार व प्रशासन के खिलाफ आक्रोश जताया

नोखा। धारा  144 लागू  ( निषेधाज्ञा ) होने के बावजूद प्रशासन की बिना स्वीकृति के खींवसर विधायक ने नोखा में मौन रैली निकाली तथा साठिका संघर्ष समिति के बेमियादी धरने पर पहुंचकर सरकार व प्रशासन के खिलाफ आक्रोश जताया। बेनीवाल ने साठिका में प्रशासन की ओर से की गई कार्रवाई को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि आनन-फानन में सालों से रहने वाले परिवारों के आशियाने उजाड़कर दर-दर भटकने का मजबूर कर दिया है।



बेनीवाल ने कहा की जब तक उजाड़े गए 75 परिवारों को पुनर्वास, जमीन और धरना स्थल पर गत दिनों लड़की की हुई मौत पर परिजनों को मुआवजा, उपखण्ड अधिकारी व तहसीलदार को निलम्बितत नहीं किया जाएगा,तब तक संघर्ष जारी रहेगा।

इससे पहले बेनीवाल नोखा पहुंचते ही सीधे पब्लिक पार्क पहुंचे और वहा से धारा 144 में ही मौन रैली के साथ धरना स्थल पर पहुंचे। उपखण्ड अधिकारी कार्यालय समक्ष धरना स्थल पर सभा में अम्बेडकर संगठन के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र मेघवाल, भजनसिंह नागौर, सुरेन्द्र, लिछूराम सारण, दिनेश सारण, विवेक माचरा आदि ने प्रशासन द्वारा साठिका ओरण भूमि से अतिक्रमण के नाम पर उजाडऩे की कार्रवाई पर रोष जताया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

 

 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker