बीकानेरबीकानेर संभाग

बीकानेर: मरीज़ को मौत पर पीबीएम अस्पताल बरपा हंगामा, मामला हुआ दर्ज!

बीकानेर : संभाग सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम में आये दिन कोई ना कोई हंगामा होता ही  रहता है। मरीज़ों की मौत पर अक्सर परिजन आक्रमक हो उठते है और नौबत हाथा-पाई तक आ जाती है।  बीती रात को अस्पताल में मरीज़ की मौत हंगामा हो गया और बात मारपीट तक पहुँच गयी। आखिर में स्थति बिगड़ती देखकर मौके पर पुलिस तक बुलानी पड़ी। बात दरअसल एस वार्ड में भर्ती मरीज की मौत होने पर नर्सिंग कर्मियों व परिजनों में शनिवार देर रात को आपस में बोलचाल व मारपीट हो गई।

मरीज़ को मौत पर भड़का मामला 

जानकारी के अनुसार पीबीएम अस्पताल के एस वार्ड में जितेन्द्र पुत्र नंदकिशोर निवासी गंगाशहर पिछले कुछ दिनों से  गंभीर बीमार के चलते   अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मरीज़ की हालत लगातार नाज़ुक बनी हुई थी।  दोपहर में  रोगी की तबीयत ज्यादा खराब होने पर नर्सिंग कर्मचारियों ने सीनियर डॉक्टर को सुचना दी। मगर मरीज़ की स्थति बिगड़ती ही जा रही थी इस इसपर ड्यूटी पर तैनात नर्सिंग कर्मी  महावीर ने रोगी को संभाला और ईसीजी आदि की। लेकिन तब तक मरीज़ के परिजनों ने हंगमा मचाना शुरू कर और नर्सिंग कर्मी को थप्पड़ तक जड़ दिया।

नर्सिंगकर्मियों ने दी आंदोलन की धमकी 

परिजन द्वारा मारपीट करने पर नर्सिंग कर्मचारी एकत्रित हो गये और परिजनों और नर्सिंग कर्मचारियों के भयंकर बहसबाज़ी शुरू हो गयी। देर रात को माहौल बिगड़ने से अन्य परिजन भी सकेत में आ गए।  घटना की जानकारी मिलने पर पीबीएम चौकी की पुलिस मौके पर पहुंची और माहौल को शांत करवाने की कोशिश की। बाद में पीबीएम अधीक्षक पी.के. बेरवाल व डॉ.सुरेन्द्र मौके पर पहुंचकर नर्सिंग कर्मचारी व परिजनों को शांत करवाया। आये दिन परिजनों के दुर्व्यहार को लेकर नर्सिंग कर्मियों ने भारी रोष जताया और हड़ताल पर जाने की चेतवानी तक दे दी। नर्सिंग कर्मचारी आरिफ मोहम्मद, प्रदीप चौधरी, धन्नाराम मेण व मुकेश ने पीबीएम अध्यक्ष से मांग की दोषी परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज कर तुरंत कार्यवाही जाये। अगर कोई कार्यवाही नहीं की गयी तो वो आंदोलन का रास्ता अखित्यार करेंगे। 

 

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker