बीकानेर

राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर बीकानेर आ सकती है प्रियंका वाड्रा

बीकानेर। आगामी समय में प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों देखते हुए राजनैतिक दलों में खासा हलचल बढ़ी हुई है. नेताओं की बढती इस गहमागहमी में हर एक दल चुनाव जीतने के लिए रणनीतियां बना रहा है।  इसी क्रम में राज्य में विधानसभा चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस अब प्रियंका वाड्रा का सहारा लेगी।

वहीं दूसरी और कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष के रूप में राहुल गांधी का राज्य के विभिन्न स्थानों पर दौरे कर सभाओं को संबोधित करना भी लगभग तय है। राहुल के बाद उनकी प्रियंका गांधी भी राजस्थान में चुनाव प्रचार करने आएंगी। प्रियंका गांधी का दौरा संभाग में बीकानेर के अलावा हनुमानगढ़ और श्री गंगानगर का भी हो सकता है।  

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का श्रीगंगानगर दौरा संभावित  

वही दूसरी और भाजपा खेमें में चुनाव को लेकर अभी से तैयारियों शुरू हो चुकी है , जयपुर में पीएम मोदी की रैली को लेकर सभी बड़े नेता पुरे दम -ख़म से लगे है. पार्टी सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का श्रीगंगानगर जिले का दौरा बन रहा है। वह हिंदूमलकोट में बड़ी रैली को संबोधित करने आएंगे। इसे देखते हुए कांग्रेस भी अपने बड़े नेताओं को जिले के दौरे पर लाना चाहती है। इसके चलते राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा का बीकानेर और श्रीगंगानगर जिलों का दौरा भी हो सकता है।

राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा के साथ ही सोनिया गांधी भी चुनावी दौरे

राजस्थान विधानसभा के चुनावों को 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों का सेमीफाइनल माना जा रहा है। लिहाजा, इन चुनावों में कांग्रेस जीत हासिल करने के लिए कोई कसर नही छोडऩा चाहती। इसी के चलते राहुल गांधी का साथ देने के लिए प्रियंका वाड्रा के भी चुनावी दौरों का प्लान तैयार किया जा रहा है।

सूत्रों की मानें तो प्रियंका गांधी राहुल गांधी के साथ कोई भी चुनावी सभा नहीं करेंगी। बल्कि वह अलग चुनावी सभाओं की कमान संभालेंगी। राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा के साथ ही सोनिया गांधी भी चुनावी दौरे करेंगी।

सभी दलों ने झोंक रखी है ताकत 

सूत्रों के मुताबिक जुलाई में राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका वाड्रा के दौरे शुरू हो जाएंगे। राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा की रैलियों, सभाओं और रोड शो को लेकर पहले सभी तैयारियां पूरी की जाएगी। उसके बाद उनसे अनुमति लेकर इस कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा। गौरतलब है कि इस बार प्रदेश में सत्ता विरोधी लहर को भांपते हुए कांग्रेस यहां किसी भी प्रकार से चूक नहीं करना चाहती है। इसलिए ही पार्टी के शीर्षस्थ नेता यहां अपनी पूरी ताकत झोंकने की तैयारी कर रहे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker