बीकानेर

छात्र नेता के समर्थन में सर्वसमाज ने किया बीकानेर जिला मुख्यालय का घेराव !

बीकानेर। नोखा में छात्र नेता मगनाराम केड़ली के साथ तहसीलदार द्वारका प्रसाद शर्मा द्वारा की गई मारपीट एवं अभद्रता की घटना को लेकर विवाद लगातार गहराता जा रहा है। सोमवार को दलित नेता मगनाराम के समर्थन में प्रदर्शन के लिये उतरे सर्व समाज के छात्र नेताओं ने बीकानेर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर तहसीलदार द्वारका प्रसाद शर्मा के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में मांग की गई है कि विगत गुरूवार को नोखा तहसील मुख्यालय में जाति और मूल निवासी प्रमाण पत्र बनाने पहुंचे मगनाराम केड़ली के साथ मारपीट और जातिसूचक गालिया निकालने वाले आरोपी तहसीलदार द्वारका प्रसाद के खिलाफ कार्यवाही कर उसकी गिरफ्तारी की जाये। प्रदर्शन करने वालों में छात्र नेता विजयपाल बेनीवाल,आत्माराम तर्ड,विवेक माचरा,लिछूराम समेत दलित संगठनों के पदाधिकारी और युवा शामिल थे।

नारेबाजी के साथ कलक्टरी पहुंचे प्रदर्शनकारियों ने मौके पर धरना देकर तहसीलदार के खिलाफ नारेबाजी की। कलक्टर को दिये गये ज्ञापन में आगाह किया है कि अगर तीन दिन में आरोपी तहसीलदार के खिलाफ कार्यवाही नहीं की गई तो नोखा तहसील मुख्यालय के बाहर सर्वसमाज की ओर महापड़ाव शुरू किया जायेगा।

वहीं नोखा तहसील कार्यालय के बाहर दिया जा रहा धरना सोमवार को चौथे दिन जारी रहा। धरनास्थल पर रविवार को तहसीलदार का पूतला फूंककर प्रदर्शन भी किया गया। धरने पर पंकज भूरिया, सांवर मेघवाल, गोपालराम चौहान, जुगल राजस्थानी, भीम बौद्ध, दिनेश सारण, गेनाराम पटीर, दिनेश सिंह बिरठ, अशोक आदि मौजूद रहे।

गौरतलब है कि तीन दिन पूर्व नोखा तहसील कार्यालय में तहसीलदार द्वारकाप्रसाद शर्मा व छात्र नेता मगनाराम केड़ली के बीच गर्मागर्मी हो गई थी। बाद में दोनों ने एक-दूसरे पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए परस्पर मामले भी दर्ज कराए। पुलिस ने छात्र नेता केड़ली को गिरफ्तार कर जेल भिजवा दिया। इससे नाराज उनके समर्थकों ने तहसील कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर अनिश्चितकालीन धरना शुरु कर दिया।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker