नाल दुर्घटना में मारे गए बीकानेर के युवक, चोरी की थी मोटर साइकिलǃ

बीकानेर। दो दिन पहले नाल थाना क्षेत्र में हुई दुर्घटना में मारे गए युवकों की पहचान गुरुवार शाम हो सकी। यह दोनों युवक बीकानेर के भाटों के बास के रहने वाले हैं। जिस मोटर साइकिल पर सवार थे, वो चोरी की है और इस आशय का मामला गुरुवार को ही नयाशहर थाने में दर्ज हुआ है। उधर, पुलिस ने दोनों की मौत के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग पर काम कर रही कंपनी इरकोन को भी जिम्मेदार मानते हुए प्राथमिकी में नामजद किया है।

नाल थाना प्रभारी धरम पूनिया ने बताया कि दोनों युवक भाटों के बास के रहने वाले हैं। एक का नाम विक्रम पुत्र रूपाराम है जबकि दूसरा शिशुपाल पुत्र हीरालाल है। दोनों दो दिन से लापता थे। गुरुवार शाम क्षेत्र के पार्षद नरेश जोशी के साथ मृतकों के परिजन पीबीएम अस्पताल पहुंचे और उनकी शिनाख्त की। पूनिया ने बताया कि शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद शव सौंपा जाएगा। पूनिया ने बताया कि जिस मोटर साइकिल से दुर्घटना के कारण इनकी मौत हुई है, वो मोटर साइकिल चोरी की थी। इस आशय का मामला नयाशहर थाने में दर्ज हुआ है। 

बीकानेर से फलौदी तक राष्ट्रीय राजमार्ग को चौड़ा करने और रास्ते में पुल बनाने का काम कर रही कंपनी इरकॉन की लापरवाही के कारण ही दोनों युवकों की मौत हुई। नाल थाना प्रभारी पूनिया ने बताया कि डिवाइडर पर और रास्ते में किसी तरह की सुरक्षा व्यवस्था नहीं की गई है। ऐसे में वाहन चालक असमंजस की स्थिति में एक दूसरे से जा टकराते हैं। दो दिन पहले हुई मौत भी इसी कारण हुई है। ऐसे में कंपनी के खिलाफ नामजद मामला दर्ज किया गया है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले करमीसर तिराहे के पास डेढ़ महीने पहले हुई दुर्घटना के लिए भी यही कंपनी जिम्मेदारी मानी जा रही है। सड़क के बीच में टूटे डिवाइडर की चपेट में आने से युवक की मौत हो गई थी।

Facebook Comments
loading...

366total visits,1visits today

Post Author: ANAND

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *