अजब गजबजायका बीकानेरबीकानेरबीकानेर संभाग

बीकानेर बीके स्कूल के दही बड़ों का नाम सुनते ही, आता है अच्छे अच्छों के मुँह में पानी!

बीकानेर के लोगों की दिन की शुरुवात ‘ स्वाद ‘ से शुरू होती है और ख़त्म भी स्वाद के साथ होती है। सुबह होते ही यहां पर चाय – नमकीन की  दुकानों पर लाइन लग जाती है. चाहे वो चाय पट्टी पर चाय साथ मिलने वाली जूनिया महाराज की फैमस दाल की कचोरी – पकौड़ी हो या चाहे बीके स्कुल के पास मिलने वाले लक्ष्मण जी के स्वादिष्ट दही – बड़े हो, क्योंकि यहां स्वाद के मामले में कोई भी  कोम्प्रोमाईज़ नहीं करता। जिसे जो खाना है वो खाकर रहेगा भले कोई सेहत की लाख दुहाई देता रहे। चटपटे अलबेला मस्ताना टाइप के  लोगों का शहर है बीकानेर! 

 

चाय साथ मिलने वाली जूनिया महाराज की फैमस दाल की कचोरी - पकौड़ी

 

खाने में रसगुल्ला-भुजिया के अलावा और बहुत कुछ फेमस है यहां पर    

भले दुनिया के आधे लोग तो बीकनेर को बस रसगुल्ला-भुजिया बिजनेस के कारण जानते होंगे लेकिन वास्तव में यही बीकानेर है जहां अन्य कई तरह की मिठाईयां,नमकीन भी बनते हैं जिससे काफी लोग तो जानते हैँ और कई लोग वाकिफ नहीं है। इस तरह शायद बीकानेर ही राज्य में अपने किस्म का पहला शहर होगा जिसे लोग खाने के मामले में भी बेहतरी से जानते होंगे। मिष्ठान और नमकीन के लिए प्रसिद्ध बीकानेर में तरह-तरह के व्यंजन, पकवान बनाए जाते हैं और कई जगहों पर विशेष तौर पर स्पेशल खाने की वैरायटीज बनायी जाती है जिसे लोग न केवल पसन्द करते हैं बल्कि उसका स्वाद भी लेते हैं और मजा तो तब आता है जब जिस जगह पर बनायी गयी चीज को उसी जगह पर पहुंच कर खाया जाए तब स्वाद का मजा दोगुना सा अहसास कराता है।

 

बी.के.स्कूल पास मिलने वाले ' दही - बड़े '

बी.के.स्कूल के पास मिलने वाले ‘ दही – बड़े ‘ का फैन हर कोई है 

बीकानेर में भी अनेक जगहों पर पहुंचकर मिठाई, नमकीन का स्वाद लिया जा सकता है। जी हां हम बात कर रहे हैं शहर के अन्दरुनी इलाके जस्सूसर गेट के अंदर बी.के.स्कूल के समीप पिछले 15 वर्षों से भी अधिक दुकान लगाए बैठे लक्ष्मण भाटी, देवकिशन भाटी की। वे अपने हाथों से बनाए दही-बड़ों के स्वाद के लिए जाने जाते हैं। उनके द्वारा घर में बनाए दही और बहुत ही सॉफ्ट बड़ों को मिक्स करके दही बड़े बनाए जाते हैं। जिनका स्वाद लेने के लिए लोग यहां पहुुंचते ही हैं। इनका स्वाद पूरे शहर ही नहीं बल्कि बीकानेर निवासी और बाहर के प्रवासी भी बीकानेर आते हैं तो यहां पहुंचकर इनके हाथ के बनाए दही बड़े खाकर स्वाद का चटकारा लेते हैं। वे बताते हैं कि बड़े में ढेर सारे मसाले भी डालने के साथ-साथ किशमिश, काजू, बादाम भी डाले जाते हैं जिसकी वजह से इसका स्वाद एकदम अलग और बेहतरीन हो जाता है।

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker