ज्योतिष शास्त्र

किस दिशा में सोना चाहिए, पति-पत्नी ध्यान रखेंगे ये 10 बातें तो जल्दी मिल सकता है संतान सुख

जानिए कुछ ऐसे वास्तु टिप्स जिनकी वजह से वैवाहिक जीवन अच्छा बना रह सकता है।

वास्तु टिप्स. पति-पत्नी का रिश्ता सुखद और शांतिपूर्ण बना रहे इसके लिए जरूरी है कि दोनों के बीच तालमेल सही रहे। घर के दोषों की वजह से पति-पत्नी के बीच सामंजस्य बिगड़ सकता है। वास्तु के अनुसार घर के दोषों के कारण संतान सुख मिलने में भी देरी हो सकती है। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. दयानंद शास्त्री के अनुसार कुछ ऐसे वास्तु टिप्स जिनकी वजह से वैवाहिक जीवन अच्छा बना रह सकता है।

1.अगर संतान सुख पाने में देरी हो रही है तो पति-पत्नी को संतान प्राप्ति तक वायव्य कोण यानी उत्तर-पश्चिम दिशा या उत्तर दिशा में सोना चाहिए। इसी दिशा में शयनकक्ष बनवाएंगे तो प्रेम बढ़ता है और जल्दी ही संतान प्राप्ति की इच्छा पूरी हो सकती है।

2. जब पति-पत्नी एक ही बेड पर दो अलग-अलग गद्दों का उपयोग करते हैं तो इनके बीच मतभेद बढ़ने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। इसीलिए बेड पर एक ही बड़े गद्दे का उपयोग करना चाहिए।

3. पति-पत्नी के रिश्ते को मजबूत बनाए रखने के लिए बेड को कभी भी घर के बीम के नीचे नहीं लगाना चाहिए। बीम के नीचे सोने से अलगाव बढ़ सकता है।

4. पति-पत्नी के संबंधों में मजबूती बनाए रखने के लिए बेडरुम की दीवारों का रंग गुलाबी या पीला करना चाहिए।

5. वैवाहिक जीवन में मधुरता बनाए रखने के लिए घर में रोजाना या कम से कम सप्ताह में एक बार नमक मिले पानी से पौंछा लगाना चाहिए।

6. यदि पति-पत्नी के बीच कुछ ज्यादा ही वाद-विवाद होते रहते हैं तो ये उपाय करें। उपाय के अनुसार घर के लिए गेहूं शनिवार को ही पिसवाना चाहिए। गेहूं पिसवाते समय कुछ काले चने भी डाल देना चाहिए।

7.पं. शास्त्री के अनुसार पति-पत्नी जिस कमरे में सोते हैं, उस कमरे में ड्रेसिंग टेबल नहीं रखना चाहिए। अगर ड्रेसिंग टेबल उसी कमरे में रखना हो तो उसे इस प्रकार रखें कि सोते और उठते समय उस पर नजर ना पड़े। रात को सोने से पहले मिरर को किसी चादर से ढंक देना चाहिए।

8. पति-पत्नी में मधुर संबंधों के लिए बेडरुम की दीवार पर राधा और श्रीकृष्ण, खिले हुए गुलाब या हंसते हुए बच्चे की फोटो लगाना शुभ रहता है।

9. पति-पत्नी के बीच का प्रेम और विश्वास बनाए रखने के लिए बिस्तर एकदम साफ रखना चाहिए। चादर दो-तीन दिनों पर बदलते रहना चाहिए।

10. पति-पत्नी के संबंधों में परस्पर प्रेम बढ़ाने के लिए शयनकक्ष में बिस्तर पर लाल-गुलाबी चादर या कंबल या रजाई का प्रयोग करने से भी काफी लाभ मिलता है। शयनकक्ष में कोई भी जल का स्रोत या पानी की फोटो या असली पौधे नहीं रखना चाहिए।

 देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker