बीकानेर

मार्च के महीने में जून से तेवर, दिन भर की गर्मी से लोग हुए बेहाल

मरूधरा में भीषण तपन ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है और पारा तेजी से ऊपर चढ़ रहा है। मंगलवार को सुबह से ही सूरज का तेज चमकने लगा

बीकानेर। मरूधरा में भीषण तपन ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है और पारा तेजी से ऊपर चढ़ रहा है। मंगलवार को सुबह से ही सूरज का तेज चमकने लगा। दिन चढऩे के साथ वातावरण में तपिश बढ़ती गई। धूप में सुबह नौ बजे से ही चुभन हो रही थी। बीकानेर समेत आसपास के कई गांवों में तापमान 38 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया। दोपहर में गर्मी रही। धूप में निकलने वालों के पसीना आना शुरू हो गया। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में तापमान में बढ़ोतरी के संकेत दिए हैं।

दिन में तापमान 38 से 40 तक जा पहुंचा

दोपहर 12 बजे के बाद धूप में अधिक देर रहने वालों के शरीर से पसीना छूटना शुरू हो गया। राहगीर भी धूप से बचाव करते नजर आए। दोपहर में तापमान 36.5 डिग्री रहा। ग्रामीण इलाकों में भी ऐसा ही मौसम रहा।मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले दो तीन दिन जिलेभर में मौसम शुष्क रहेगा और दिन में पारा सामान्य से चार— पांच डिग्री तक ज्यादा रहने का अनुमान है। स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार शहर में अगले चौबीस घंटे में मौसम शुष्क रहेगा वहीं आसमान साफ रहने पर दिन का तापमान सामान्य से ज्यादा रहने की संभावना है। वहीं मौसम विभाग ने इस बार गर्मी के मौसम में भीषण गर्मी पडऩे के संकेत दिए हैं।

मौसम में बड़े बदलाव से किया इनकार

विभाग के आकंड़ों पर यदि नजर डालें तो मार्च माह में वर्ष 2007, 2016 में बीकानेर का अधिकतम तापमान 40 डिग्री व उससे ज्यादा दर्ज हो चुका है। वहीं मार्च के पहले पखवाड़े में ही इस बार दिन का तापमान 34 डिग्री व उससे ज्यादा दर्ज हो रहा है। आगामी दिनों में मौसम में बड़े बदलाव होने से हालांकि मौसम केंद्र ने इंकार किया है ऐसे में अगले पखवाड़े में शहर में दिन में पारा सामान्य से पांच डिग्री तक ज्यादा रहने पर झुलसाती गर्मी के सितम का सामना शहरवासियों को करना पड़ सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए फेसबुक पेज को लाइक करें

Tags
Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker